بسم الله الرحمن الرحيم

نتائج البحث: 6236
ترتيب الآيةرقم السورةرقم الآيةالاية
5479734أو زد عليه ورتل القرآن ترتيلا
और क़ुरान को बाक़ायदा ठहर ठहर कर पढ़ा करो
5480735إنا سنلقي عليك قولا ثقيلا
हम अनक़रीब तुम पर एक भारी हुक्म नाज़िल करेंगे इसमें शक़ नहीं कि रात को उठना
5481736إن ناشئة الليل هي أشد وطئا وأقوم قيلا
ख़ूब (नफ्स का) पामाल करना और बहुत ठिकाने से ज़िक्र का वक्त है
5482737إن لك في النهار سبحا طويلا
दिन को तो तुम्हारे बहुत बड़े बड़े अशग़ाल हैं
5483738واذكر اسم ربك وتبتل إليه تبتيلا
तो तुम अपने परवरदिगार के नाम का ज़िक्र करो और सबसे टूट कर उसी के हो रहो
5484739رب المشرق والمغرب لا إله إلا هو فاتخذه وكيلا
(वही) मशरिक और मग़रिब का मालिक है उसके सिवा कोई माबूद नहीं तो तुम उसी को कारसाज़ बनाओ
54857310واصبر على ما يقولون واهجرهم هجرا جميلا
और जो कुछ लोग बका करते हैं उस पर सब्र करो और उनसे बा उनवाने शाएस्ता अलग थलग रहो
54867311وذرني والمكذبين أولي النعمة ومهلهم قليلا
और मुझे उन झुठलाने वालों से जो दौलतमन्द हैं समझ लेने दो और उनको थोड़ी सी मोहलत दे दो
54877312إن لدينا أنكالا وجحيما
बेशक हमारे पास बेड़ियाँ (भी) हैं और जलाने वाली आग (भी)
54887313وطعاما ذا غصة وعذابا أليما
और गले में फँसने वाला खाना (भी) और दुख देने वाला अज़ाब (भी)


0 ... 537.8 538.8 539.8 540.8 541.8 542.8 543.8 544.8 545.8 546.8 548.8 549.8 550.8 551.8 552.8 553.8 554.8 555.8 556.8 ... 623

إنتاج هذه المادة أخد: 0.02 ثانية


المغرب.كووم © ٢٠٠٩ - ١٤٣٠ © الحـمـد لله الـذي سـخـر لـنا هـذا :: وقف لله تعالى وصدقة جارية

489832191978143630430186158225544371687