بسم الله الرحمن الرحيم

نتائج البحث: 6236
ترتيب الآيةرقم السورةرقم الآيةالاية
54297110فقلت استغفروا ربكم إنه كان غفارا
अपने परवरदिगार से मग़फेरत की दुआ माँगो बेशक वह बड़ा बख्शने वाला है
54307111يرسل السماء عليكم مدرارا
(और) तुम पर आसमान से मूसलाधार पानी बरसाएगा
54317112ويمددكم بأموال وبنين ويجعل لكم جنات ويجعل لكم أنهارا
और माल और औलाद में तरक्क़ी देगा, और तुम्हारे लिए बाग़ बनाएगा, और तुम्हारे लिए नहरें जारी करेगा
54327113ما لكم لا ترجون لله وقارا
तुम्हें क्या हो गया है कि तुम ख़ुदा की अज़मत का ज़रा भी ख्याल नहीं करते
54337114وقد خلقكم أطوارا
हालॉकि उसी ने तुमको तरह तरह का पैदा किया
54347115ألم تروا كيف خلق الله سبع سماوات طباقا
क्या तुमने ग़ौर नहीं किया कि ख़ुदा ने सात आसमान ऊपर तलें क्यों कर बनाए
54357116وجعل القمر فيهن نورا وجعل الشمس سراجا
और उसी ने उसमें चाँद को नूर बनाया और सूरज को रौशन चिराग़ बना दिया
54367117والله أنبتكم من الأرض نباتا
और ख़ुदा ही तुमको ज़मीन से पैदा किया
54377118ثم يعيدكم فيها ويخرجكم إخراجا
फिर तुमको उसी में दोबारा ले जाएगा और (क़यामत में उसी से) निकाल कर खड़ा करेगा
54387119والله جعل لكم الأرض بساطا
और ख़ुदा ही ने ज़मीन को तुम्हारे लिए फ़र्श बनाया


0 ... 532.8 533.8 534.8 535.8 536.8 537.8 538.8 539.8 540.8 541.8 543.8 544.8 545.8 546.8 547.8 548.8 549.8 550.8 551.8 ... 623

إنتاج هذه المادة أخد: 0.02 ثانية


المغرب.كووم © ٢٠٠٩ - ١٤٣٠ © الحـمـد لله الـذي سـخـر لـنا هـذا :: وقف لله تعالى وصدقة جارية

39644323424624004147625262576523985774