بسم الله الرحمن الرحيم

نتائج البحث: 6236
ترتيب الآيةرقم السورةرقم الآيةالاية
111بسم الله الرحمن الرحيم
अल्लाह के नाम से जो रहमान व रहीम है।
212الحمد لله رب العالمين
तारीफ़ अल्लाह ही के लिये है जो तमाम क़ायनात का रब है।
313الرحمن الرحيم
रहमान और रहीम है।
414مالك يوم الدين
रोज़े जज़ा का मालिक है।
515إياك نعبد وإياك نستعين
हम तेरी ही इबादत करते हैं, और तुझ ही से मदद मांगते है।
616اهدنا الصراط المستقيم
हमें सीधा रास्ता दिखा।
717صراط الذين أنعمت عليهم غير المغضوب عليهم ولا الضالين
उन लोगों का रास्ता जिन पर तूने इनाम फ़रमाया, जो माअतूब नहीं हुए, जो भटके हुए नहीं है।
821بسم الله الرحمن الرحيم الم
अलीफ़ लाम मीम
922ذلك الكتاب لا ريب فيه هدى للمتقين
(ये) वह किताब है। जिस (के किताबे खुदा होने) में कुछ भी शक नहीं (ये) परहेज़गारों की रहनुमा है
1023الذين يؤمنون بالغيب ويقيمون الصلاة ومما رزقناهم ينفقون
जो ग़ैब पर ईमान लाते हैं और (पाबन्दी से) नमाज़ अदा करते हैं और जो कुछ हमने उनको दिया है उसमें से (राहे खुदा में) ख़र्च करते हैं


1 2 3 4 5 6 7 8 9 ... 623

إنتاج هذه المادة أخد: 0.01 ثانية


المغرب.كووم © ٢٠٠٩ - ١٤٣٠ © الحـمـد لله الـذي سـخـر لـنا هـذا :: وقف لله تعالى وصدقة جارية

14147621174271647021859519272833375898