بسم الله الرحمن الرحيم

نتائج البحث: 6236
ترتيب الآيةرقم السورةرقم الآيةالاية
38803792ما لكم لا تنطقون
आख़िर तुम खाते क्यों नहीं (अरे तुम्हें क्या हो गया है)
38813793فراغ عليهم ضربا باليمين
कि तुम बोलते तक नहीं
38823794فأقبلوا إليه يزفون
फिर तो इबराहीम दाहिने हाथ से मारते हुए उन पर पिल पड़े (और तोड़-फोड़ कर एक बड़े बुत के गले में कुल्हाड़ी डाल दी)
38833795قال أتعبدون ما تنحتون
जब उन लोगों को ख़बर हुई तो इबराहीम के पास दौड़ते हुए पहुँचे
38843796والله خلقكم وما تعملون
इबराहीम ने कहा (अफ़सोस) तुम लोग उसकी परसतिश करते हो जिसे तुम लोग खुद तराश कर बनाते हो
38853797قالوا ابنوا له بنيانا فألقوه في الجحيم
हालाँकि तुमको और जिसको तुम लोग बनाते हो (सबको) खुदा ही ने पैदा किया है (ये सुनकर) वह लोग (आपस में कहने लगे) इसके लिए (भट्टी की सी) एक इमारत बनाओ
38863798فأرادوا به كيدا فجعلناهم الأسفلين
और (उसमें आग सुलगा कर उसी दहकती हुई आग में इसको डाल दो) फिर उन लोगों ने इबराहीम के साथ मक्कारी करनी चाही
38873799وقال إني ذاهب إلى ربي سيهدين
तो हमने (आग सर्द गुलज़ार करके) उन्हें नीचा दिखाया और जब (आज़र ने) इबराहीम को निकाल दिया तो बोले मैं अपने परवरदिगार की तरफ जाता हूँ
388837100رب هب لي من الصالحين
वह अनक़रीब ही मुझे रूबरा कर देगा (फिर ग़रज की) परवरदिगार मुझे एक नेको कार (फरज़न्द) इनायत फरमा
388937101فبشرناه بغلام حليم
तो हमने उनको एक बड़े नरम दिले लड़के (के पैदा होने की) खुशख़बरी दी


0 ... 377.9 378.9 379.9 380.9 381.9 382.9 383.9 384.9 385.9 386.9 388.9 389.9 390.9 391.9 392.9 393.9 394.9 395.9 396.9 ... 623

إنتاج هذه المادة أخد: 0.02 ثانية


المغرب.كووم © ٢٠٠٩ - ١٤٣٠ © الحـمـد لله الـذي سـخـر لـنا هـذا :: وقف لله تعالى وصدقة جارية

36214345220446312961609653576224423698