بسم الله الرحمن الرحيم

نتائج البحث: 6236
ترتيب الآيةرقم السورةرقم الآيةالاية
312926197أولم يكن لهم آية أن يعلمه علماء بني إسرائيل
क्या उनके लिए ये कोई (काफ़ी) निशानी नहीं है कि इसको उलेमा बनी इसराइल जानते हैं
313026198ولو نزلناه على بعض الأعجمين
और अगर हम इस क़ुरान को किसी दूसरी ज़बान वाले पर नाज़िल करते
313126199فقرأه عليهم ما كانوا به مؤمنين
और वह उन अरबो के सामने उसको पढ़ता तो भी ये लोग उस पर ईमान लाने वाले न थे
313226200كذلك سلكناه في قلوب المجرمين
इसी तरह हमने (गोया ख़ुद) इस इन्कार को गुनाहगारों के दिलों में राह दी
313326201لا يؤمنون به حتى يروا العذاب الأليم
ये लोग जब तक दर्दनाक अज़ाब को न देख लेगें उस पर ईमान न लाएँगे
313426202فيأتيهم بغتة وهم لا يشعرون
कि वह यकायक इस हालत में उन पर आ पडेग़ा कि उन्हें ख़बर भी न होगी
313526203فيقولوا هل نحن منظرون
(मगर जब अज़ाब नाज़िल होगा) तो वह लोग कहेंगे कि क्या हमें (इस वक्त क़ुछ) मोहलत मिल सकती है
313626204أفبعذابنا يستعجلون
तो क्या ये लोग हमारे अज़ाब की जल्दी कर रहे हैं
313726205أفرأيت إن متعناهم سنين
तो क्या तुमने ग़ौर किया कि अगर हम उनको सालो साल चैन करने दे
313826206ثم جاءهم ما كانوا يوعدون
उसके बाद जिस (अज़ाब) का उनसे वायदा किया जाता है उनके पास आ पहुँचे


0 ... 302.8 303.8 304.8 305.8 306.8 307.8 308.8 309.8 310.8 311.8 313.8 314.8 315.8 316.8 317.8 318.8 319.8 320.8 321.8 ... 623

إنتاج هذه المادة أخد: 0.02 ثانية


المغرب.كووم © ٢٠٠٩ - ١٤٣٠ © الحـمـد لله الـذي سـخـر لـنا هـذا :: وقف لله تعالى وصدقة جارية

3294372531071393189126741475273331742161