بسم الله الرحمن الرحيم

نتائج البحث: 6236
ترتيب الآيةرقم السورةرقم الآيةالاية
29442612قال رب إني أخاف أن يكذبون
मूसा ने अर्ज़ कि परवरदिगार मैं डरता हूँ कि (मुबादा) वह लोग मुझे झुठला दे
29452613ويضيق صدري ولا ينطلق لساني فأرسل إلى هارون
और (उनके झुठलाने से) मेरा दम रुक जाए और मेरी ज़बान (अच्छी तरह) न चले तो हारुन के पास पैग़ाम भेज दे (कि मेरा साथ दे)
29462614ولهم علي ذنب فأخاف أن يقتلون
(और इसके अलावा) उनका मेरे सर एक जुर्म भी है (कि मैने एक शख्स को मार डाला था)
29472615قال كلا فاذهبا بآياتنا إنا معكم مستمعون
तो मैं डरता हूँ कि (शायद) मुझे ये लाग मार डालें ख़ुदा ने कहा हरगिज़ नहीं अच्छा तुम दोनों हमारी निशानियाँ लेकर जाओ हम तुम्हारे साथ हैं
29482616فأتيا فرعون فقولا إنا رسول رب العالمين
और (सारी गुफ्तगू) अच्छी तरह सुनते हैं ग़रज़ तुम दोनों फिरऔन के पास जाओ और कह दो कि हम सारे जहाँन के परवरदिगार के रसूल हैं (और पैग़ाम लाएँ हैं)
29492617أن أرسل معنا بني إسرائيل
कि आप बनी इसराइल को हमारे साथ भेज दीजिए
29502618قال ألم نربك فينا وليدا ولبثت فينا من عمرك سنين
(चुनान्चे मूसा गए और कहा) फिरऔन बोला (मूसा) क्या हमने तुम्हें यहाँ रख कर बचपने में तुम्हारी परवरिश नहीं की और तुम अपनी उम्र से बरसों हम मे रह सह चुके हो
29512619وفعلت فعلتك التي فعلت وأنت من الكافرين
और तुम अपना वह काम (ख़ून क़िब्ती) जो कर गए और तुम (बड़े) नाशुक्रे हो
29522620قال فعلتها إذا وأنا من الضالين
मूसा ने कहा (हाँ) मैने उस वक्त उस काम को किया जब मै हालते ग़फलत में था
29532621ففررت منكم لما خفتكم فوهب لي ربي حكما وجعلني من المرسلين
फिर जब मै आप लोगों से डरा तो भाग खड़ा हुआ फिर (कुछ अरसे के बाद) मेरे परवरदिगार ने मुझे नुबूवत अता फरमायी और मुझे भी एक पैग़म्बर बनाया


0 ... 284.3 285.3 286.3 287.3 288.3 289.3 290.3 291.3 292.3 293.3 295.3 296.3 297.3 298.3 299.3 300.3 301.3 302.3 303.3 ... 623

إنتاج هذه المادة أخد: 0.02 ثانية


المغرب.كووم © ٢٠٠٩ - ١٤٣٠ © الحـمـد لله الـذي سـخـر لـنا هـذا :: وقف لله تعالى وصدقة جارية

57242003930272414915213612254001745150